फ़ेसबुक पर अनुसरण करें-

ग़ाफ़िल

My photo
Babhnan, Gonda, Uttar Pradesh, India

Saturday, January 11, 2020

शायद

दो शे’र-

गुफ़्तगू हो भी अगर तो कैसे
हर कोई ऊब गया है शायद

आह ये ख़ुश्बू! इसी राह से ही
मेरा महबूब गया है शायद

-‘ग़ाफ़िल’

No comments:

Post a Comment