फ़ेसबुक पर अनुसरण करें-

ग़ाफ़िल

My photo
Babhnan, Gonda, Uttar Pradesh, India

Monday, August 10, 2015

माल हम बेमिसाल रखते हैं

2122 1212 22

आर्ज़ू बाकमाल रखते हैं
माल हम बेमिसाल रखते हैं

है हमें इश्क़ का लिहाज़ ज़रा
यूँ तो हम भी सवाल रखते हैं

बचके जाए न एक भी मछली
इश्क़ का हम वो जाल रखते हैं

लुत्फ़ है यह के आपने जो कहा
हुस्न को हम सँभाल रखते हैं

आप ख़ुद को भी भूल जाएँ पर
हम तो सबका ख़याल रखते हैं

सादगी देखिए तो, हम ग़ाफ़िल
दिल जलाकर मशाल रखते हैं

-‘ग़ाफ़िल’

No comments:

Post a Comment